३० दिन के अगले कदम

परिचय

वचन: “देखो, सब नया हो गया” (२ कुरिन्थियों ५: १७ / 2 Corinthians 5:17)


“देखो, सब नया हो गया” (२ कुरिन्थियों ५: १७ / 2 Corinthians 5:17)

आप एक नई सृष्टि हो

वचन: “देखो, सब नया हो गया” (२ कुरिन्थियों ५: १७ / 2 Corinthians 5:17)

परिचय एक व्यक्ति का आत्मिक जन्म ऐसा अनुभव है, जो वर्णन के परे है। प्रेरित पौलुस इसका सबसे सही वर्णन तब करते हैं जब वह एक विश्वासी को “नई सृष्टि” बताते हैं, “देखो, सब नया हो गया” (२ कुरिन्थियों ५: १७ / 2 Corinthians 5:17).

प्राकृतिक जन्म के समान ही आत्मिक जन्म के बाद का समय बहुत विपदा भरा होता है। हम तुरन्त नये वातावरण के अनुकूल नहीं हो पाते। एक व्यक्ति के मसीह में जीवन के बदलाव के समय, धीरज के साथ और विशेष ख्याल के साथ रहना पड़ता है।

आपको एक अच्छी शुरूआत करने के लिये, यहां पर “अगले कदम: आत्मिक विकास की ३० दिनों की मार्गदर्शिका है। यह गाइड आपकी यात्रा की एक मजबूत शुरूआत करने में आपकी सहायता करेगी। इसको अगले ३० दिन केलिए हर दिन उपयोग के लिये डिजा़इन किया गया है।

सोचता हूँ कि काश “अगले कदम आज से ४० साल पहले मुझे भी उस समय मिली होती जब में मसीह में आया ही था। मैं जानता हूँ कि इसने मेरे आत्मिक विकास को गति प्रदान की होती, और मुझे अनावश्यक गलतियों से बचने मेंसहायता मिलती। मेरी पत्नी वेंडी और मैंने साथ मिलकर ६ बच्चों की परवरिश की, और उन्होंने हमें १७ पोते-पोतियों से नवाज़ा है। मेरा एक सफल व्यवसाय है, लेकिन मुझे मसीह के साथ में चलने से अधिक खुशी किसी में भी नहींमिलती है, और यह साहसिक कार्य आज तक जारी है।

मेरी इच्छा है कि आप भी उसी आनंद को प्राप्त करें

जोन. डी. बेकेट

आप क्यों न अपनी यात्रा का अगला चरण अभी शुरू करें? # दिन १: “व्यक्तिगत रूपान्तरण,” आपका इन्तजार कर रहा है।

अभी शुरू करें.


आप क्यों न अपनी यात्रा का अगला चरण अभी शुरू करें? # दिन १: “व्यक्तिगत रूपान्तरण,” आपका इन्तजार कर रहा है।